घोड़े के बारे में 40 दिलचस्प जानकारी - Information About Horse in Hindi

essay-horse-information-hindi

आज हम आपको घोड़े के बारे में जानकारी (Horse information in Hindi) देना चाहते हैं, जो की बहुत ही रोचक और दिलचस्प हैं इनमे से कुछ जानकारियाँ ऐसी भी हैं जो आपको हैरान कर सकते हैं। आप इन जानकारियों को घोड़े पर निबंध (Essay on Horse in Hindi) लिखने के लिए भी उपयोग कर सकते हैं।

घोड़े के बारे में रोचक जानकारी - Essay & Information About Horse in Hindi

1. धरती पर मौजूद सभी स्तनपायी जानवरों की तुलना में घोड़े की ऑंखें सबसे बड़ी होती हैं।

2. घोड़े की ऑंखें उनके सर के अगल-बगल होती हैं यही वजह है की इनकी देखने की क्षमता 360 डिग्री है।

3. ये एक ही समय में दो अलग-अलग जगहों पर देख सकते हैं।

4. पूरी दुनिया में घोड़े के 350 से भी अधिक नस्लें हैं।

5. ये बहुत ही रहस्यमयी बात है जिसे जानकर आप हैरान हो सकते हैं। घोड़े की सबसे पुरानी नस्ल अरेबियन नस्ल है और विशेषज्ञों के अनुसार ये मिस्र के पिरामिड काल यानी लगभग 4500 साल से मौजूद हैं।

6. घोड़ों के झुण्ड में सभी घोड़े एकसाथ नही लेटते हैं उनमे से कुछ घोड़े हमेशा खड़े ही रहेंगे ताकि वे आसपास के सम्भावित खतरे पर नजर रख सकें।

7. ये खड़े होकर और लेट कर दोनों तरह से सो सकते हैं।

8. माना जाता है की इनकी याददाश्त बहुत तेज होती है और इस मामले में ये हाथी से भी अधिक तेज होते हैं।

9. एक वयस्क घोड़े के मस्तिष्क का वजन लगभग 22 औंस का होता है, जो की मानव मस्तिष्क के वजन से लगभग आधा होता है।

10. घोड़े कभी उल्टी नहीं कर सकते।

11. घोड़े के दांतों का आकार उनके मस्तिष्क के आकार से बड़े होते हैं।

12. आपने तस्वीरों में घोड़े को हँसते हुए तो देखा ही होगा लेकिन सच तो यह है की ये खुश होकर नही हँसते हैं दरअसल ऐसा करके ये बेहतर तरीके से सूंघने की कोशिश कर रहे होते हैं।

13. एक घोडा एक दिन में लगभग 100 लीटर पानी पी जाता है।

14. आमतौर पर घोड़े जहाँ देख रहे होते हैं उनके कान भी उसी दिशा में होते हैं लेकिन यदि उनके कान और आँख अलग-अलग दिशा में हों तो समझ लीजिये की वे दो अलग-अलग जगह पर देख रहे हैं।

15. इनके शरीर में पित्ताशय की थैली नही होती है।

16. घोड़े के प्रत्येक कान में 16 मांसपेशियां होती हैं, जिससे इसे वे 180 डिग्री तक घुमा सकते हैं।

17. एक घोड़े के दिल का वजन लगभग 4 से 5 किलो होता है।

18. किसी घोड़े को ठण्ड लगी है या नही यह कैसे पता लगायें? यह काम बहुत ही आसान है, अगर उनके कान ठन्डे हैं तो इसका मतलब यह है की घोड़े को ठण्ड लग रही है।

19. क्या आप जानते हैं? पालतू घोड़े की केवल एक ही प्रजाति है, लेकिन इसके लगभग 400 अलग-अलग नस्लें हैं जिन्हें रेसिंग और अन्य कामो के लिए प्रशिक्षित किया जा सकता है।

20. घोड़े के खुर उसी प्रोटीन से बने होते हैं जोकि इंसानों के बाल और नाख़ून में पाए जाते हैं।

21. एक घोड़ा रात में इंसान से बेहतर देख सकता है।

22. हालांकि, एक घोड़े को प्रकाश से अंधेरे और अंधेरे से प्रकाश में जाने पर अपनी आँखों को adjust करने में इंसान की तुलना में अधिक समय लगता है।

23. घोड़े के मुह में एक दिन में लगभग 10 गैलन लार पैदा होते हैं।

24. एक घोड़े के खुर को फिर से पूरी तरह से उगने में 9-12 महीने लगते हैं।

25. घोडा एक सामजिक प्राणी है ये अकेले रहना पसंद नही करते हैं। साथी की मृत्यु हो जाने पर ये शोक मानते हैं।

26. घोड़े के कान, नाक और चेहरे के हाव-भाव से आप उसके मूड का पता लगा सकते हैं।

27. कहा जाता है की ‘ओल्ड बिली’ नाम का 19 वीं सदी का घोड़ा 62 साल का था।

28. घोड़े आपस में बात करने के लिए अलग-अलग तरह की आवाजों का उपयोग करते हैं।

Basic Information About Horse in Hindi

29. घोड़े की आयु कितनी होती है? इनकी उम्र लगभग 25 से 30 साल होती है।

30. घोड़े पैदा होने के कुछ घंटों बाद दौड़ना शुरू कर देते हैं।

31. एक घोड़े के दिल का वजन लगभग 4 से 5 किलो होता है।

32. घोड़े की स्पीड कितनी होती है? घोड़े की अधिकतम स्पीड 88 किलोमीटर नापी गयी है।

33. इनके शरीर में 205 हड्डियाँ होतीं हैं।

34. घोड़ा क्या खाता है? यह एक शाकाहारी जानवर है जो की पौधे, पत्तियां, फल, सब्जियां आदि खाता है।

35. घोड़े मीठे स्वाद वाली चीजों को खाना ज्यादा पसंद करते हैं, खट्टी और कडवी चीजों से दूर रहते हैं।

36. पुरुष और मादा घोड़े के दांतों की संख्या में अंतर होता है। नर घोड़े के मुहं में 40 दांत होते हैं जबकि मादा के पास केवल 36 दांत होते हैं।

37. दुनिया के सबसे छोटे घोड़े की ऊंचाई मात्र 14 इंच है, न्यू हैम्पशायर के इस पोनी घोड़े को आइन्स्टाइन नाम दिया गया है।

38. क्या आपको पता है? घोड़े को नापने के लिए हाथ का उपयोग किया जाता है। जहाँ एक हाथ का मतलब 4 इंच होता है।

39. भारत में घोड़ों की कई नस्लें पाई जाती हैं जिनमे से मुख्य नस्लों के नाम कुछ इस प्रकार हैं:
  • मारवाड़ी घोड़ा : यह राजस्थान के मारवाड़ इलाके में पाए जाते हैं। इनके कान मुड़े हुए होते हैं और यह उनकी खास पहचान है। ये अपने कानो को 180 डीग्री में मोड़ सकते हैं। इनका आकार 14 से 16 हाथ होता है।
  • काठियावाड़ी घोड़ा: इसकी जन्मस्थली गुजरात है। इसकी औसत ऊंचाई 147 cm यानि 14.2 हाथ होती है। इस नस्ल में काले रंग के घोड़े नही पाए जाते। भारत के कई स्थानों में सेना और पुलिस इसे घुड़सवारी के लिए उपयोग करती है।
  • स्पीती नस्ल: यह हिमाचल प्रदेश के पहाड़ी इलाके में पाए जाते हैं इसका नाम स्पीती घाटी पर रखा गया है। इनकी ऊँचाई अधिकतर 127 से.मी. होती है।
  • ज़नस्कारी: यह जम्मू-कश्मीर के लद्दाख क्षेत्र में बहुतायत रूप से पाए जाते हैं। ये ऊंचाई वाले इलाके में सामान ढोने के लिए बहुत उपयोगी हैं।
  • मणिपुरी नस्ल: असम और मणिपुर के क्षेत्रों में ये नस्ल पाए जाते हैं। इस नस्ल को विशेष तौर पर पोलो खेलने के लिए ब्रीड किया गया था।
40. मंगोलिया का Przewalski horse एक मात्र जंगली घोड़े की नस्ल है जो की अभी तक जीवित है।


हमें उम्मीद है आपको घोड़े के बारे में जानकारी (Information About Horse in Hindi) पढ़कर अच्छा लगा होगा। आप चाहें तो इसे घोड़े पर निबंध (Essay on horse in Hindi)लिखने के लिए भी उपयोग कर सकते हैं।
Read More

गोवा के बारे में 22 रोचक जानकारी - Information About Goa in Hindi

Information About Goa in Hindi

गोवा के बारे में जानकारी - Information About Goa in Hindi

1. गोवा भारत का सबसे छोटा राज्य है जिसका आकार केवल 3702 वर्ग किलोमीटर है।

2. यह राज्य सबसे छोटा जरुर है लेकिन प्रति व्यक्ति आय के मामले में यह सबसे अमीर राज्यों में से एक है। आंकड़ों के अनुसार यहाँ सभी भारतीय राज्यों की तुलना में प्रति व्यक्ति आय सबसे अधिक है।

3. गोवा का समुद्री बीच और यहाँ मिलने वाला सस्ता शराब बहुत ही प्रसिद्ध है।

4. क्या आपको पता है? गोवा में 7000 से भी अधिक पंजीकृत बार हैं जहाँ से आप शराब खरीद सकते हैं।

5. आपको जानकर बड़ी हैरानी होगी की गोवा में दो स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता है, एक 15 अगस्त को भारत के स्वतंत्रता दिवस के रूप में और दूसरा 19 दिसम्बर को गोवा मुक्ति दिवस के रूप में मनाया जाता है।

6. दरअसल, सन 1947 में भारत के आजाद होने के बाद भी गोवा भारत का हिस्सा नही था इसे पुर्तगालियों ने अपने कब्जे में ले रखा था।

7. पुर्तगालियों ने सन 1510 से 1961 तक यानि 451 सालों तक गोवा में राज किया था।

8. गोवा की आजादी की लड़ाई में राम मनोहर लोहिया का बहुत बड़ा योगदान था इसके लिए उन्हें जेल भी जाना पड़ा था, उनपर 5 साल के लिए गोवा आने से प्रतिबंध लगा दिया गया था।

9. 19 दिसम्बर सन 1961 में भारतीय सशस्त्र सेना द्वारा ऑपरेशन चलाया गया जिसे 'गोवा मुक्ति संग्राम' या 'गोवा मुक्ति आन्दोलन' भी कहा जाता है इसे ऑपरेशन विजय नाम दिया गया था।

10. इस सैन्य कार्रवाही में थलसेना, जलसेना और वायुसेना तीनो ने भाग लिया था।

11. इस जबरदस्त कार्रवाही का परिणाम यह हुआ की मात्र 36 घंटे के अंदर पुर्तगाल के गवर्नर जर्नल वसालो इ सिल्वा ने उस समय के भारतीय सेना प्रमुख पीएन थापर के सामने समर्पण कर दिया।

12. पुर्तगालियों से आजाद होने के बाद सन 1987 में गोवा को भारत का राज्य घोषित कर दिया गया।

13. क्या आप जानते हैं? 1961 से पहले गोवा में पैदा होने वाले व्यक्ति के पास दोहरी नागरिकता मिली हुई है वे पुर्तगाल और भारत दोनों की नागरिकता हासिल है।

14. यहाँ 450 साल पुरानी डेड बॉडी भी है जो की अपने आप में रहस्यमय है क्योंकि सैकड़ों सालों बाद भी यह सड़ी नही है दरअसल यह सेंट फ्रांसिस जेवियर की बॉडी है जोकि गोवा में पणजी के बेसिलिका ऑफ बॉम जीसस चर्च में सन 1553-54 से रखी हुई है।

15. गोवा राज्य की आमदनी का मुख्य हिस्सा पर्यटन उद्योग से आता है।

16. क्या आप जानते हैं? मशहूर पार्श्व गायिका लता मंगेशकर और आशा भोंसले जी के पिता पंडित दीनानाथ मंगेशकर गोवा के ही निवासी थे वे गोवा के मंगेशी नाम के गाँव में पैदा हुए थे।

17. गोवा में कितने beach हैं? उत्तर गोवा और दक्षिण गोवा दोनों को मिलाकर यहाँ लगभग 50 beaches हैं।

18. अगर हम गोवा के कुछ famous beaches के बारे में बात करें तो ये कुछ इस प्रकार हैं:

  • बागा बीच 
  • कलंगूट
  • सिंकेरियन बीच
  • पणजी बीच
  • मिरामार
  • कोलवा बीच 
  • पालोलेम बीच
  • बागाटोर
  • अंजुना 
  • दोनापौला
  • कोला 
  • मोबोर 
19. एशिया का सबसे पुराना मेडिकल कॉलेज कहाँ है? अगर कोई आपसे यह सवाल पूछे तो आपको यह जानकारी होना चाहिए की गोवा में स्थित गोवा मेडिकल कॉलेज एशिया का सबसे पहला मेडिकल कॉलेज है जिसे 18वीं शताब्दी में पुर्तगाल शासन द्वारा बनाया गया था।

20. सबसे पहला प्रिंटिंग प्रेस भी गोवा के सेंट पॉल कॉलेज में चालू किया गया था और आपको जानकर हैरानी होगी की यह भी एशिया का सबसे पहला प्रिंटिंग प्रेस है।

21. यही नही भारत देश का सबसे पहला इंग्लिश मीडियम स्कूल St Joseph's High School भी गोवा राज्य में ही बना था।

22. उत्तर गोवा में एक गुफा है जिसे पांडव गुफा कहा जाता है क्योंकि ऐसा माना जाता है की महाभारत काल में निर्वासन के दौरान पांडव इसी गुफा में रहा करते थे।

आपको यह गोवा के बारे में रोचक जानकारी - Information About Goa in Hindi कैसी लगी हमें जरुर बताएं।
Read More

ऊंट के बारे में 35 दिलचस्प जानकारी - Information About Camel in Hindi

information about camel in hindi

आज हम रेगिस्तान के जहाज ऊंट के बारे में जानकारी (information about camel in Hindi) देने वाले हैं। इन रोचक और मजेदार तथ्यों का उपयोग कर आप ऊंट पर निबंध भी लिख सकते हैं।

ऊंट के बारे में 35 रोचक तथ्य - Information About Camel in Hindi

1. ऊंट बिना पानी पिए बहुत लम्बे समय तक रह सकते हैं। हालाँकि ये जब पानी पिते हैं तो एक बार में 150 लीटर पी जाते हैं।

2. ऊंट के कूबड़ में क्या संचित होता है? माना जाता है की ऊंट अपने शरीर का सारा पानी अपनी कूबड़ में जमा करके रखता है, लेकिन यह बात गलत है। दरअसल इनके कूबड़ में पानी नही बल्कि वसा जमा होता है जो की उनके शरीर को ठंडा रखने में मदद करता है।

3. ऊंटों को "रेगिस्तान का जहाज" भी कहा जाता है क्योंकि उनका उपयोग रेगिस्तान में वस्तुओं को लाने और ले जाने के लिए किया जाता है।

4. इनके कूबड़ में जमा वसा जरुरत पड़ने पर भोजन और पानी के रूप में बदल जाता है।

5. ऊंट के पलकों के तीन परत होते हैं जो उन्हें रेगिस्तान के धूलों से बचाते हैं।

6. इनके देखने और सुनने की क्षमता भी अधिक होती है।

7. ऊंट की ऊंचाई कितनी होती है? इनकी ऊंचाई 7 फीट तक हो सकती है।

camel information in hindi

8. ऊंट एक शांत प्रजाति का जानवर है शायद यही वजह है की अरब संस्कृतियों में ऊंट को धैर्य, सहनशीलता और धीरज का प्रतीक माना गया है।

9. ऊंट दिखने में बड़े धीमे होते हैं लेकिन ये 60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकते हैं हालांकि इस रफ्तार से ये अधिक समय तक नही दौड़ पाते लेकिन फिर भी 40 किमी की गति से आराम से चल सकते हैं।

10. अरेबियन ऊंट के पीठ पर केवल एक कूबड़ होता है जबकि एशियाई ऊंटों के शरीर में दो कूबड़ होते हैं।

11. जब ये पैदा होते हैं तो इनके कूबड़ नही होते हैं लेकिन उम्र बढ़ने के साथ-साथ इनके कूबड़ के आकार बढ़ते जाते हैं और ठोस होते जाते हैं।

Facts for Essay on Camel in Hindi

12. ऊंट क्या खाता है? ऊंट शाकाहारी होते हैं और पत्ते, पौधे, फल-फूल आदि खाते हैं।

13. ये 400 किलोग्राम का वजन उठाकर चल सकते हैं।

14. ऊंट में गर्भावस्था 9-14 महीने तक की होती है, यह अवधि भोजन की उपलब्धता पर भी निर्भर करती है।

15. ऊंट के बच्चे पैदा होने के कुछ घंटों बाद चलना शुरू कर देते हैं।

16. एक ऊंट का जीवनकाल 40 से 50 साल तक का होता है।

17. ऊंट कभी भी बेवजह नही थूकते हैं, इन्हें जब खतरा महसूस होता है तब इसे सुरक्षा तंत्र के रूप में उपयोग करते हैं।

18. एक ऊंट के नाक बड़े अद्भुत होते हैं। वे जल वाष्प बनाने का काम करते हैं जिसे जरुरत होने पर शरीर में वापस लाया जा सकता है।

19. ऊंट अपने पैर के विशेष डिजाइन के कारण रेत पर आसानी से चल पाते हैं। ऊंट के पैर में दो पंजे होते हैं जो जमीन पर रखने से फैलते हैं और रेत में धंसते नही हैं।

20. ये पथरीले रेगिस्तान पर चलने से बचते हैं क्योंकि इससे उनके पैरों को नुकसान पहुँचता है।

21. एक ऊंट आमतौर पर एक दिन में 40 किलोमीटर की यात्रा करता है।

22. आमतौर पर कांटेदार टहनियों को अन्य जानवर खाना पसंद नही करते लेकिन इसे ऊंट बड़े आराम से खा सकते हैं इससे इनके मुंह पर कोई चोंट नही लगती है।

23. इनके मुंह दो भाग में बंटे होते हैं ताकि ये अपने भोजन को प्रभावी तरीके से चबा कर खा सकें।

24. हम इंसानों के शरीर से अगर 15% पानी कम हो जाये तो हम dehydrated हो जाते हैं लेकिन ऊंट के शरीर का 25% पानी खत्म हो जाए तो भी वे डीहाइड्रेट नही होते हैं।

10 Sentences about camel in Hindi

25. इनके शरीर का तापमान 34 (रात के दौरान) से लेकर 41 डिग्री सेल्सियस (दिन के दौरान) तक होता है। 41 डिग्री सेल्सियस से अधिक तापमान बढ़ने पर उन्हें पसीना आने लगता है।

26. ऊंट के कान में ढेर सारे बाल होते हैं। जो की रेत और धूल को उनके कानों से दूर रखते हैं। कान और आंखों के अलावा, उनके नथुने रेत को दो सांसों को बीच में बंद करके प्रवेश करने से रोकते हैं।

27. इनके शरीर के फर सूरज की रौशनी को परावर्तित कर देते हैं यही वजह है की गर्म रेगिस्तान में भी ऊंट ज्यादा गर्म नही होते हैं।

28. ऊंटनी के दूध में गायों के दूध की तुलना में अधिक विटामिन सी और आयरन होता है साथ ही इसमें वसा भी कम होती है, और यह आपके लिए शरीर के लिए बहुत अच्छा है इसलिए अगर आपको मौका मिले तो ऊँटनी का दूध जरुर पियें।

29. अगर ऊंटनी के दूध का मिल्कशेक पीना हो तो आप अबू धाबी जा सकते हैं।

30. केन्या में जिन इलाकों में पुस्तकालय की सुविधा नही है वहां कैमल मोबाइल लाइब्रेरी का उपयोग होता है। यानि ऊंटों का उपयोग उन क्षेत्रों में किताबें लेजाने के लिए किया जाता है।

31. यूएई में हर साल अल-ढफरा ऊंट महोत्सव होता है। यहाँ ऊँटों के बीच सौंदर्य प्रतियोगिता होती है, जिसमे हजारों ऊंटों को खिताब के लिए प्रतिस्पर्धा करते देखा जा सकता है।

32. इतिहास में ऊँटों का उपयोग (विशेषकर रेगिस्तानी क्षेत्रों में) युद्ध के दौरान किया जाता था क्योंकि ये पानी और भोजन के बिना लंबी दूरी की यात्रा करने में सक्षम हैं।

33. ऊंट एक सामाजिक प्राणी है जो 30 ऊँटों का झुण्ड बनाकर एक साथ भोजन और पानी की तलाश में रेगिस्तानों में घूमते हैं।

34. ऊंट का वजन कितना होता है? अगर वजन की बात करें तो यह 600 किलो तक हो सकते हैं।

35. ऊंट का पेशाब ज्यादा तरल नही होता यह किसी सिरप की तरह मोटी होती है।

आपको ये जानकारियां (Information About Camel in Hindi) पढ़कर कैसा लगा हमें जरुर बताएं। हमें उम्मीद है की ऊंट के बारे में ये 35 lines और sentences आपको ऊंट पर निबंध (Essay on Camel in Hindi) लिखने में जरुर मदद करेंगे
Read More

तोते के बारे में 30 रोचक जानकारी - Information About Parrot in Hindi

information-about-parrot in hindi

आज हम आपके लिए लेकर आये हैं तोते के बारे में जानकारी (Information about Parrot in Hindi) और  आपको बताएँगे 30 रोचक और मजेदार तथ्य जिनके बारे में आप शायद ही जानते हों। आप इन जानकारियों हिंदी में तोते पर निबंध (essay on parrot in Hindi) लिखने के लिए भी उपयोग कर सकते हैं।

तोता के बारे में रोचक तथ्य - Amazing Information about Parrot bird in Hindi

1. ऑस्ट्रेलियन नाइट तोते को दुनिया का सबसे मायावी और रहस्यमय पक्षी माना गया है, इस प्रजाति के पक्षी को इस सदी में केवल तीन लोगों के द्वारा देखे जाने की पुष्टि हुई है।

2. क्या आपको पता है? भारत में तोते को पिंजड़े में पालना गैर कानूनी है।

3. तोते के पंख में प्राकृतिक रूप से एंटीबैक्टीरिया तत्व पाए जाते हैं।

4. तोते ही एकमात्र ऐसे पक्षी हैं जो अपने पैरों से खाना पकड़ कर ठीक उसी तरह खा सकते हैं जैसे हम इंसान अपने हाथों से खाते हैं।

Tote ke bare mein


5. माना जाता है कि तोते सबसे बुद्धिमान प्रजाति के पक्षियों में से एक हैं।

6. तोते को पढना, गिनना, रंगों और आकृतियों को पहचानना सिखाया जा सकता है।

7.  तोते की कितनी प्रजाति होती है? पूरी दुनिया में तोते की लगभग 400 से भी ज्यादा प्रजाति पाई जातीं हैं।

8. Puck नामक तोते का नाम गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज क्योंकि इसने 1728 शब्द याद कर लिए थे।

9. कुछ प्रजातियाँ ऐसी भी होती हैं जो इंसानों की आवाज़ की नकल कर सकते हैं।

10. रोचक तथ्य यह भी है की तोते पराबैंगनी प्रकाश (अल्ट्रावायलेट किरणों) को भी देख सकते हैं, जबकि हम मनुष्य ऐसा नहीं कर सकते।

11. तोते अलग-अलग आकार और वजन के होते हैं। औसतन एक तोते का आकार 3.5 से 40 इंच (8.7 से 100 सेंटीमीटर) और वजन 64 ग्राम से 1.6 किलोग्राम हो सकता है।

12. काकापो (Kakapo) तोता दुनिया का सबसे भारी तोता है। इसका औसत वजन 4 किलोग्राम होता है।

13. दुनिया के सबसे छोटे और हल्के तोते का नाम पिग्मी (Pygmy) है जिसका औसत वजन 10 ग्राम होता है।

14. तोते की उम्र कितनी होती है? तोते का जीवनकाल अन्य पक्षियों की तुलना में अधिक होता है, कई बार ये आपके साथ उम्रभर भी रह सकते हैं तो कई बार ये अपने मालिक से अधिक उम्र तक जीवित रहते हैं। आमतौर पर बड़ी प्रजाति के तोते अधिक उम्र तक जीवित रहते हैं जो की 30-70 साल तक भी जी सकते सकते हैं।

Information about Parrot in Hindi 

15. सबसे अधिक उम्र तक जीवित रहने वाले तोते का नाम कुकी (Cookie) है जिसकी सन 2016 में 83 साल की आयु में मौत हो गयी। इसने अपना लगभग पूरा जीवनकाल Brookfield Zoo में बिताया।

15. तोता क्या-क्या खाता है? अधिकांश तोते भोजन के रूप में बीजों का उपयोग करते हैं। इसके अलावा ये फल, फूल या छोटे कीड़े भी खा सकते हैं। यानि ये शाकाहारी भी होते हैं और मांसाहारी भी।

16. इस बात का हमेशा ध्यान रखें - तोते को कभी भी चॉकलेट नही खिलाना चाहिए, यह उनके लिए जहरीला होता है और इससे उनकी जान जा सकती है।

17. Hyacinth नाम के तोते की चोंच इतनी मजबूत होती है की यह कठोर नारियल को भी तोड़ सकती है।

18. सन 1800 के अंत में, एक स्कॉच व्हिस्की कंपनी ने मार्केटिंग के लिए 500 तोते का इस्तेमाल किया था। उन्होंने अपने प्रचार के लिए कुछ स्लोगन बनाकर तोतों को रटवा दिया था और फिर उन्हें अलग-अलग पबों को दे दिया गया था।

19. यह अपने आप में अनोखी बात है कि अधिकांश तोते एक पैर पर खड़े होकर सोते हैं।

20. आपको जानकर हैरानी होगी की तोते का 2 करोड़ 30 लाख साल पुराना जीवाश्म पाया गया है जिनके हड्डियों की संरचना आज के तोते की तरह ही थे।

21. तोते कितने अंडे देते हैं? आमतौर पर ये एक समय में दो से आठ अंडे देते हैं, जिन्हें 18 से 30 दिनों तक सेने की आवश्यकता होती है, माता-पिता दोनों मिलकर अंडे को सेते हैं।

22. तोते के बच्चे अपने जीवन के पहले दो हफ्तों के लिए अंधे होते हैं। तीन सप्ताह में, वे अपने पंख विकसित करना शुरू कर देते हैं। एक से चार साल बाद ही ये चूजे पूरी तरह से परिपक्व हो पाते हैं।

Parrot ki photo

23. आश्चर्यजनक तथ्य यह है कि तोते की कई प्रजातियां ऐसी भी होती हैं जिनमे नर और मादा एक समान होते हैं और लिंग पता करने के लिए रक्त परीक्षण करना पड़ता है।

24. तोते छेद वाले घोंसले में रहना पसंद करते हैं। वे अपने घोंसले का निर्माण पेड़ों के छेद, चट्टानों के गुहाओं या जमीन की सुरंगों में करते हैं।

25. तोते मिलनसार और सामाजिक पक्षी होते हैं और इन्हें झुण्ड में रहना पसंद होता है।

26. यह भी देखा गया है की यदि तोता लम्बे समय तक अकेला रहे तो वह बोर होकर पागल भी हो सकता है। इन्हें प्यार और दुलार चाहिए होता है, ये किसी न किसी के सम्पर्क में रहना पसंद करते हैं, ये लम्बे समय खाली नही रह सकते। इसलिए इन्हें कभी भी लम्बे समय तक पिंजड़े में खाली नही छोड़ना चाहिए।

27. तोते को संगीत पसंद होता है, वे संगीत की ताल को महसूस कर सकते हैं और समझ भी सकते हैं।

28. तोते के बारे में एक और आश्चर्यजनक तथ्य यह है कि यदि आप एक तोते को बोलना सिखाते हैं और इसे जंगली में छोड़ देते हैं तो यह बाकी तोतों को भी बोलना सिखा सकता है।

29. तोता का एक नस्ल ऐसा भी है जो उड़ नही सकता, इसे काकापो (Kakapo) कहते हैं जो की अपनी भारी वजन की वजह से उड़ नही सकते।

30. दुर्भाग्य की बात है की काकापो की प्रजाति अब धीरे-धीरे लुप्त होती जा रही है - 2018 में इनकी संख्या केवल 149 रह गयी थी।

आगे पढ़ें:
आपको तोते के बारे में जानकारी (Parrot information in Hindi) पढ़ कर कैसा लगा हमें जरुर बताएं। इसे आप essay on parrot in Hindi की तरह भी उपयोग कर सकते हैं।
Read More

बाघ (टाइगर) के बारे में 40 रोचक जानकारियाँ - Information About Tiger in Hindi

information about Tiger in Hindi

बाघ के बारे में 40 रोचक तथ्य - Facts About Tiger in Hindi

आज हम आपको भारत के राष्ट्रीय पशु बाघ यानि टाइगर के बारे में 45 points में कुछ अनोखी और दिलचस्प जानकारियाँ बताने वाले हैं। इनमे से कुछ तथ्य ऐसे भी हैं जिनके बारे में आपको शायद ही पता हो। तो चलिए जानते हैं टाइगर के बारे में। आप इन जानकारियों को बाघ पर निबंध (essay on tiger in Hindi) लिखने के लिए भी उपयोग कर सकते हैं।

बाघ के बारे में 1 - 10 रोचक तथ्य - Facts and Information About Tiger in Hindi

1. पूरी दुनिया के लगभग 70% बाघ भारत में ही पाए जाते हैं। सन 2006 में सिर्फ 1,411 टाइगर ही बचे थे, लेकिन अब इनकी संख्या बढती जा रही है और 2016 तक इनकी संख्या बढ़ कर 3,890 हो गयी थी।

2. बाघ (Tiger) पूरी दुनिया में बिल्ली की सबसे बड़ी प्रजाति है।

3. धरती के सबसे बड़े मांसाहारी जानवरों की लिस्ट में बाघ तीसरे नंबर पर है, जबकि पहले स्थान पर ध्रुवीय भालू और दुसरे पर भूरे भालू हैं।

4. बाघ अपने जन्म से एक सप्ताह तक पूरी तरह से अंधे होते हैं। जिनमे से लगभग आधे शावक वयस्क होने से पहले ही मर जाते हैं।

5. जन्म के बाद 2 सालों तक बच्चों की देखभाल केवल मादा ही करती है।

bagh-tiger-in-hindi

6. हम इंसानों की उंगलियों के निशान की तरह प्रत्येक बाघ के शरीर की धारियां अपने आप में अलग होती हैं।

7. बाघों की रात में देखने की क्षमता मनुष्य की तुलना में लगभग छह गुना बेहतर है।

8. इनके दहाड़ने की आवाज़ बहुत तेज़ होती है इसे आप 3 किलोमीटर दूर से भी सुन सकते हैं।

9. टाइगर की दौड़ने की रफ़्तार 60 किलोमीटर प्रति घंटा तक हो सकती है।

10. टाइगर लगभग 8 मीटर की दूर और 5 मीटर ऊंचाई तक छलांग लगा सकते हैं।

बाघ के बारे में 11 - 20 तथ्य - Facts and Information About Tiger in Hindi

11. इनके मांसल पैर इतने मजबूत होते हैं की ये मृत अवस्था में भी कुछ समय तक खड़े रह सकते हैं।

12. एक बाघ के पिछले पैर उसके आगे के पैरों से अधिक लंबे होते हैं, जिससे उन्हें अधिक दूरी तक छलांग लगाने की क्षमता मिलती है।

13. ज्यादातर बाघों की आंखें पीली होती हैं, लेकिन सफेद बाघों की आँखें आमतौर पर नीली होती हैं।

14. बाघ की औसत उम्र 10-15 साल होती है लेकिन विशेष परिस्थिति में ये 25 साल तक भी जीवित रह सकते है।

15. बाघ अपने इलाके को चिन्हित करने के लिए पेड़ों को खरोंचकर पंजे का निशान बनाते हैं इसके अलावा वे इसके लिए अपने बदबूदार मूत्र का भी उपयोग करते हैं।

यह भी पढ़ें:

16. मादा की तुलना में नर बाघों का क्षेत्र बड़ा होता है। नर और मादा बाघ के क्षेत्र एक दुसरे से मिले हुए हो सकते हैं लेकिन कभी भी दो नर या दो मादा का क्षेत्र आपस में मिला हुआ नही हो सकता।

17. सामान्यतः बाघ अन्य जानवरों पर नहीं दहाड़ते हैं, बल्कि वे दूर-दूर के बाघों से संवाद करने के लिए दहाड़ते हैं।

18. टाइगर को भूख बहुत जल्दी लगती है और ये 2-3 हफ्ते भूखा रहें तो इनकी मौत हो सकती है जबकि एक सामान्य व्यक्ति 30-40 दिनों तक बिना खाए जिन्दा रह सकता है।

tiger information in hindi


19. आपको जानकर बड़ी हैरानी होगी की बाघ अन्य जानवरों की आवाजों की नकल भी कर सकते हैं। शिकार को अपनी तरफ खीचने के लिए यह तरीका इनके लिए बहुत ही कारगर होता है।

20. बाघ अपने शिकार को गला घोंट कर मारता है, इसके अलावा गले की नस काटने के बाद खून की कमी से भी शिकार मर जाता है।

बाघ के बारे में 21 - 30 तथ्य - Facts About Tiger in Hindi

21. टाइगर की 10 सेंटीमीटर की दांत इतनी मजबूत होती है की यह अपने जबड़े से एक झटके में अपने शिकार का गला तोड़ सकती है।

22. बाघों को घात लगा कर शिकार करना पसंद होता है। वैसे तो ये अधिकतर रात में शिकार करते हैं, लेकिन मौका मिलने पर ये दिन में भी हमला कर सकते हैं।

23. बाघों के पास बड़े-बड़े गद्देदार पैर होते हैं जो उनके लिए चुपचाप अपने शिकार तक पहुँचने में मदद करते हैं।

24. कहा जाता है की यदि आप बाघ की तरफ देख रहे हों तो यह संभावना बहुत कम होती है की वह आप पर हमला करे।

25. इसलिए भारत के विभिन्न इलाकों में लोग जंगलों से गुजरते समय अपने सिर के पीछे इंसान के चेहरे की तरह दिखने वाला एक मुखौटा पहनते हैं ताकि शेर पीछे की तरफ से हमला न करे।

bagh se bchne ka tarika tiger in hindi


26. माना जाता है की बाघों को 10 से 20 शिकार के प्रयासों में से केवल एक बार ही सफलता मिलती है।

27. शिकार करने के बाद बाघ मादा और शावकों का इंतजार करते हैं, और उनके खाने के बाद ही स्वयं खाते हैं।

28. यह भी देखा गया है की किसी शिकार को खाने के लिए वे आपस में झगड़ा नही करते हैं बल्कि अपनी बारी का इंतजार करते हैं।

29. वैसे तो बाघ इंसानों को शिकार के तौर पर नही देखते लेकिन किसी प्रकार का खतरा महसूस होने पर या शिकार के लिए अन्य जीव नही मिलने पर ये इंसानों पर भी हमला कर सकते हैं।

30. ये पानी में नहाना भी पसंद करते हैं, यही नही ये एक कुशल तैराक भी होते हैं। ये बड़ी-बड़ी नदियों को पार करने में सक्षम होते हैं। बाघ द्वारा पानी में अब तक एक दिन में सबसे लम्बी दूरी तय करने का रिकॉर्ड लगभग 30 किलोमीटर का है।

टाइगर के बारे में 31 - 40 जानकारियाँ - Facts About Tiger in Hindi 10 Points

31. कई बार नदी पार करते समय इन पर मगरमच्छ का हमला होता है। मगरमच्छ से निपटने के लिए इन्हें कुछ अलग तरीके से काम करना पड़ता है, ये मगर के गले पर वार नही करते क्योंकि वह बहुत कठोर होता है इसलिए ये मगरमच्छ को उल्टा करके उसके मुलायम पेट पर वार करते हैं, कई बार तो ये आँख फोड़ कर उसे अँधा भी कर देते हैं।

32. टाइगर की कितनी प्रजाति होती है? आज बाघों की छह उप-प्रजातियां हैं:
  1. साइबेरियाई बाघ (Panthera tigris altaica)
  2. साउथ चाइना बाघ (Panthera tigris amoyensis)
  3. इंडोचाइनीज टाइगर (Panthera tigris corbetti)
  4. मलायण बाघ (Panthera tigris jacksoni)
  5. सुमात्रा टाइगर (Panthera tigris sumatrae)
  6. और बंगाल टाइगर (Panthera tigris tigris)
33. साइबेरियन बाघ (Siberian Tiger) दुनिया के सबसे बड़े बाघ होते हैं, इनकी लम्बाई 3.5 मीटर तक हो सकती है और इसका वजन 300 किलो तक हो सकता है।

34. इसके अलावा सुमात्रा (इंडोनेशिया का एक आइलैंड) में पाए जाने वाला बाघ दुनिया का सबसे छोटा बाघ होता है। एक वयस्क सुमात्रा बाघ की लम्बाई 2 मीटर और वजन केवल 100 किलो होता है।

35. इन 6 उप प्रजातियों के अलावा Tiger के और भी subspecies हुआ करते थे लेकिन पिछले 80 वर्षों में बाघ की तीन उप प्रजातियां शिकार होने की वजह से विलुप्त हो चुकी हैं:
  • बाली बाघ 
  • जावा टाइगर
  • कैस्पियन बाघ
36. बाघों के लार में एंटीसेप्टिक होता है। वे अपने घाव को चाटकर कीटाणुरहित कर सकते हैं।

37. बाघ की याददाश्त इंसानों की तुलना में 30 गुना अधिक होती है।

38. इनके दिमाग का वजन 300 ग्राम होता है।

39. एक वयस्क बाघ एक बार में 40 किलो तक मांस खा सकता है। इसके बाद यह चार या पांच दिनों के लिए दूसरा शिकार नही करता।

40. बाघ बिल्ली की एकमात्र  प्रजाति हैं जिनका शरीर पूरी तरह से धारीदार होता है। शरीर के केवल बालों पर ही नही बल्कि उनकी पूरी त्वचा में भी धारियां बनी होती हैं।

आपको टाइगर के बारे में जानकारीInformation About Tiger in Hindi ) पढ़कर कैसा लगा हमें जरुर बताएं। इसे आप essay on tiger in Hindi  की तरह भी उपयोग कर सकते हैं।
Read More

हिरन के बारे में 35 रोचक जानकारी - Information About Deer in Hindi

Information About Deer in Hindi

Interesting Information About Deer in Hindi (1-20)

1. हिरन अंटार्कटिका को छोड़कर दुनिया के हर क्षेत्र में पाए जाते हैं। 

2. पूरी दुनिया में हिरण की लगभग 60 प्रजातियाँ पायी गयी हैं।

3. हिरन आकार में बहुत छोटे और बहुत बड़े भी हो सकते हैं। इनकी ऊंचाई प्रजाति के अनुसार 12 इंच से 7 फीट तक हो सकती है।

4. पुडू (Pudu) नामक प्रजाति में सबसे कम ऊंचाई वाले हिरण पाए जाते हैं यह सिर्फ 12-17 इंच ऊँची होती हैं और इनका वजन केवल 9 किलो के आसपास होता है।

5. भारत में सबसे छोटे हिरण की प्रजाति को "माउस डियर" कहा जाता है। हालही में इसे छत्तीसगढ़ में देखा गया था इससे पहले इसे एक विदेशी नागरिक द्वारा सन 1905 में देखा गया था।

chevrotain-mouse-deer-in-hindi
Chevrotain (Mouse Deer)

6.
माउस डियर बेहद शर्मीले प्रजाति के होते हैं और इसकी लंबाई बमुश्किल 15 इंच होती हैं। इसे इंडियन चेर्वोटैन के नाम से भी जाना जाता हैं। 

7. वहीँ सबसे बड़ी हिरण की प्रजाति के बारे में बात करें तो इस प्रजाति को moose कहा जाता है इनकी ऊंचाई 6.5 फीट और वजन 820 किलो तक हो सकता है


यह भी पढ़ें:
8. इससे पहले सबसे बड़ी हिरण प्रजाति आयरिश थी जो 11,000 साल पहले विलुप्त हो गई। इसके कंधे तक की ऊंचाई 7 फीट और एंटलर को मिलाकर 12 फीट हुआ करती थी

9. हिरण की केवल एक प्रजाति अफ्रीका में रहती है - लाल हिरण।

10. नर हिरण के सिर पर हर साल नए antlers उगते हैं।

11. Antler दुनिया का सबसे तेज गति से उगने वाला उत्तक (tissue) है।

12. हिरण के गर्भावस्था का समय आकार के अनुसार भिन्न होता है। आम तौर पर, प्रजातियां जितनी बड़ी होती हैं, उतनी ही लंबी अवधि होती है।

13. हिरण अपने जन्म के आधे घंटे के भीतर चलना शुरू कर देते हैं।

14. अधिकांश हिरण सफेद धब्बों के साथ पैदा होते हैं लेकिन एक साल के अंदर ये दाग खत्म हो जाते हैं।

15. युवा हिरण आमतौर पर अपनी मां के साथ लगभग एक साल तक रहते हैं।

16. हिरण क्या खाता है? हिरण शाकाहारी होते हैं, वे केवल वनस्पति खाते हैं। एक हिरण के आहार में घास, छोटी झाड़ियाँ और पत्तियाँ शामिल होती हैं

17. हिरण की सभी प्रजातियों के पेट में चार कक्ष होते हैं, जो उन्हें जुगाली करने में मदद करते  है। यह आंशिक रूप से भोजन चबाने की प्रक्रिया है, इसे चबा कर रखना और फिर से चबाना आसान है जिससे इसे पचाने में आसानी होती है

Facts about deer in Hindi

18. हिरण बहुत अच्छे तैराक भी होते हैं और ये दूर जाने के लिए जल धाराओं और नदियों का भी उपयोग करते हैं।

19. हिरण की दौड़ने की रफ़्तार 50 किमी प्रति घंटे तक हो सकती है।

20. ये लगभग 30 फीट तक छलांग लगा सकते हैं।

Interesting Information About Deer in Hindi (21-35)

21. इनकी उछलने की ऊंचाई 10 फीट तक हो सकती है।

22. हिरण का जीवनकाल प्रजाति के अनुसार औसतन 10 से 25 साल तक हो सकता है।

23. हिरण की सुनने की क्षमता हम इंसानों से बहुत बेहतर होती है, ये आसानी से ध्वनि के स्त्रोत का पता लगा सकती हैं। यह माना जाता है कि इनके कान बेहद ही संवेदनशील होते हैं ये आसानी से यह पता लगा सकते हैं कि आवाज कितनी दूर से आ रही है।

24. हिरण की आँखें उसके सिर के किनारे पर स्थित होती हैं। इसका लाभ यह है कि हिरण खुद के आसपास 310 डिग्री देखने में सक्षम हैं।

25. इनकी आँखें बहुत बड़ी और देखने में बहुत सुन्दर होती हैं।

26. इस तरह की आँखों की बनावट का नुकसान भी है, ये दोनों आंखों को एक स्थान पर ध्यान केंद्रित करने में सक्षम नहीं हैं।

27. हिरण की आँखों की एक और खास बात यह है की ये color-blind होते हैं और इन्हें लाल और हरा रंग दिखाई नही देता है। हाँ ये नीले रंग और ultraviolet किरणों को देख सकते हैं।

28. हिरण के सूंघने की क्षमता मनुष्य से 100 गुना अधिक होती है।

29. हिरण दुनिया भर के कई जंगली जानवरों के शिकार हैं, जिनमें भेड़िये, प्यूमा, जगुआर, बाघ, भालू और कभी-कभी लोमड़ी शामिल हैं। इनका शिकार इंसान भी करते हैं।

30. सर्दियों में, हिरण कम सक्रिय होते हैं ताकि उर्जा की बचत की जा सके क्योंकि इस दौरान भोजन कम उपलब्ध होता है।

31. हिरण आराम करते समय पृथ्वी के चुंबकीय क्षेत्र के साथ खुद को उत्तर और दक्षिण दिशा में रखने की कोशिश करते हैं।

32. Red deer प्रजाति के पुरुष हिरण मादा को अपनी तरफ आकर्षित करने के लिए अलग प्रकार की ध्वनि निकालते हैं।

33. हिरण के नवजात बच्चे में कोई गंध नही होती इसलिए ये शिकारी जानवरों से बच जाते हैं।

34. हिरण भी अपना क्षेत्र निर्धारित करते हैं और उसी इलाके में भोजन की तलाश करते हैं इनका इलाका 30 मील तक फैला हो सकता है।

35. हिरण एक सामाजिक प्राणी है ये झुण्ड बनाकर रहना पसंद करते हैं और झुण्ड का नेतृत्व अक्सर नर द्वारा किया जाता है।

हमें उम्मीद है की हिरण के बारे में जानकारी (Information About Deer in Hindi) पढ़कर   आपको अच्छा लगा होगा। आप इसे हिरण पर निबंध (Essay on Deer in Hindi)लिखने के लिए भी उपयोग कर सकते हैं।
Read More

मधुमक्खी के बारे में 30 रोचक जानकारी - About Honey Bee in Hindi

madhumakkhi-honey-bee-in-hindi

मधुमक्खी के बारे में जानकारी - About Honey Bee in Hindi

1. लगभग 500 ग्राम शहद बनाने के लिए मधुमक्खी को 90000 मील यानि धरती के तीन बार चक्कर लगाने के बराबर उड़ना पड़ता है।

2. मधुमक्खियाँ 25 से 30 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ सकती हैं।

3. मधुमक्खियों की एक कॉलोनी में 50000 से 60000 मधुमक्खियाँ होती हैं जिनमे से एक रानी मधुमक्खी होती है।

4. शहद निकालने के लिए मधुमक्खी को एक बार में 50 से 100 फूलों पर मंडरा कर रस निकालना होता है।

5. ये नृत्य के जरिये आपस में बातचीत करती हैं।

6. रानी मधुमक्खी की उम्र 5 साल तक होती है और यह एक मात्र मधुमक्खी है जो अंडे देती है।

madhumakkhi ka chatta


7. एक छत्ते में मधुमक्खी कितने प्रकार के होते हैं? हर छत्ते में तीन प्रकार की मधुमक्खियाँ होती हैं: एक मादा मक्खी होती है जिसे रानी भी कहते हैं दूसरा नर मक्खी और तीसरा फल-फूलों से रस चूसकर एकत्रित करने वाली श्रमिक मक्खियाँ।

8. नर मक्खी का काम केवल रानी मक्खी को गर्भधारण कराना होता है। जब गर्भधारण हो जाता है तो नर मख्खियों को काम करने वाली मक्खियाँ मार डालती हैं।

9. मधुमक्खी कितने अंडे देती है? गर्मी के दिनों में एक रानी मधुमक्खी हर दिन 2500 अंडे देती है।

10. पुरुष मधुमक्खियों का आकार काम करने वाली मक्खियों से बड़ा होता है लेकिन इनके पास डंक नही होते और ये काम भी नही करते हैं।

11. आयुर्वेद चिकित्सा में शहद को एक उत्तम औषधि माना गया है यह गले की खराश, पाचन सम्बन्धी समस्याएं और त्वचा रोगों में अत्यधिक लाभकारी होता है।

12. इसमें एंटीसेप्टिक के गुण पाए जाते हैं इसलिए इसका उपयोग जलने-कटने, और घावों को भरने में किया जाता है।

13. मधुमक्खी के डंक के जहर का उपयोग कई बीमारियों के उपचार के रूप में किया जाता है, जिसमें गठिया और उच्च रक्तचाप शामिल हैं।

14. शहद एकमात्र ऐसा खाद्य पदार्थ है जिसमें जीवन को बनाए रखने के लिए सभी आवश्यक पोषक तत्व पाए जाते हैं।

15. शहद का रंग जितना गहरा होगा, उसमें एंटीऑक्सिडेंट गुणों की मात्रा उतनी ही अधिक होगी।

16. क्या आप जानते हैं? इंसानों के द्वारा मधुमक्खी पालन का काम पिछले 4500 सालों से किया जा रहा है।

17. मधुमक्खियाँ पिछले 15 करोड़ सालों से एक ही तरीके से शहद बनाती आ रहीं हैं।

18. हमारे द्वारा खाए जाने वाला लगभग एक तिहाई भोजन मधुमक्खी के परागण का ही परिणाम है क्योंकि परागण की वजह से ही फूल से फल बनते हैं।

19. मधुमक्खियों की जन्म से ही शहद बनाने की कला नही आती बल्कि यह काम छत्ते में उन्हें पुराने मधुमक्खियों द्वारा सिखाया जाता है।

20. मधुमक्खियाँ प्रति सेकंड 200 बार अपने पंखों को हिलाती हैं।

madhumakkhi-facts-honey-bee-in-hindi

21. मधुमक्खी एकमात्र प्रकार की मक्खी है जो डंक मारने के बाद मर जाती है।

22. मधुमक्खी के शारीर में 2 पेट होते हैं - एक खाने के लिए, और एक फूलों का रस एकत्रित करने के लिए।

23. एक मधुमक्खी अपने पूरे जीवनकाल में केवल 1/12 चम्मच शहद का ही उत्पादन करती है।

24. एक छत्ते में हर साल लगभग 25 से 45 किलो शहद का उत्पादन होता है।

25. ये मक्खियाँ एकमात्र ऐसा कीट है जो मनुष्यों द्वारा खाए जाने योग्य भोजन पैदा करतीं हैं।

26. प्राचीन मिस्र में, लोग शहद से अपने करों का भुगतान करते थे।

27. पाषाण युग की गुफाओं में मधुमक्खी पालन के प्राचीन चित्र मिले हैं।

28. सर्दियों के दौरान, कुछ श्रमिक मधुमक्खियां छत्ते को गर्म रखने का काम करती हैं, जहां वे 35 डिग्री के अनुकूल  तापमान बनाये रखने के लिए अपने शरीर को कंपन करते हैं।

29. मधुमक्खियां अपने पेट पर एक विशेष ग्रंथि में मोम का निर्माण करती हैं, जिसे वे फिर मधु रखने के लिए  मधुकोश बनाने के लिए चबाते हैं।

30. एक श्रमिक मधुमक्खी अपने शरीर के वजन के 80% के बराबर पराग ले जा सकती है।


आपको मधुमक्खी के बारे में ( About Honey Bee in Hindi ) ये जानकारियाँ कैसी लगी? जरुर बताएं।

Read More

रोचक जानकारी पायें सीधे अपने ईमेल पर!