बैडमिंटन से जुड़े 10 मजेदार रोचक तथ्य

बैडमिंटन का इतिहास बहुत ही पुराना है प्राचीन समय से ही यह खेल लोगों का मनोरंजन करता आ रहा है। इस खेल को दो खिलाडी या दो टीम आपस में खेल सकते हैं। खिलाडियों के हाँथ में एक रैकेट होता है जिससे शटलकॉक को हिट करके इस खेल को खेला जाता है। आपने भी इस खेल का आनंद उठाया होगा लेकिन आज हम आपको बैडमिंटन के बारे में कुछ रोचक और मजेदार तथ्य बताने वाले हैं जिसे पढने के बाद आप इस खेल के बारे में और भी अधिक जानकारियां प्राप्त कर पाएंगे।
Badminton facts in Hindi

बैडमिंटन की रोचक जानकारियां 

1. इस खेल की शुरुआत कैसे और कहाँ से हुई इसके बारे में कोई पुख्ता प्रमाण नही है लेकिन माना जाता है की भारत में 1500 ईसा पूर्व से ही बैडमिंटन खेला जाने लगा था तब इसे "पूना" के नाम से जाना जाता था क्योंकि इसकी शुरुआत पूना शहर से हुई थी। इसके बाद सन 1870 में भारत में कार्यरत ब्रिटिश अधिकारीयों द्वारा इसे देश से बाहर ले जाया गया। Duke of Beaufort (जिन्हें बैडमिंटन के जनक के नाम से जाना जाता है) को यह खेल बहुत पसंद था और वे अपने साथियों के साथ अक्सर इस खेल को खेला करते थे, धीरे-धीरे यह खेल लोगों के बीच काफी लोकप्रिय होने लगा।

2. रैकेट से खेले जाने वाले खेलों में बैडमिंटन सबसे तेज़ गति से खेला जाने वाला खेल है जहाँ रैकेट से लगने के बाद शटल की रफ़्तार 300 किमी. प्रति घंटे से भी ज्यादा की हो सकती है।

3. बैडमिंटन दुनियाभर में दूसरा सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाला खेल है। पसंदीदा खेलों की सूची में पहले स्थान पर फुटबाल है।

4. सन 1992 पहली बार बैडमिंटन को ओलंपिक में शामिल किया गया जिसका पहला मैच बार्सेलोना में हुआ जिसे टीवी पर लगभग 1 अरब से भी ज्यादा लोगों ने देखा इससे आप अंदाज़ा लगा सकते हैं यह खेल कितना लोकप्रिय है।

5. पुराने समय में चीन में पैर से बैडमिंटन खेला जाता था जिसे Ti Zian नाम दिया गया था जिसमे खिलाडी रैकेट की जगह अपने पैर से शटलकॉक को मारता था। यह खेल आज भी चीन में खेला जाता है।

6. बैडमिंटन के शटलकॉक को बत्तख के पंखों से बनाया जाता है। इसका वजन 4.74 से 5.50 ग्राम तक होता है।कहा जाता है की इसके लिए बत्तख के सिर्फ बाएं तरफ के 16 पंखों का ही उपयोग किया जाता है।

7. बैडमिंटन रैकेट का वजन 84 ग्राम से 100 ग्राम तक होता है।

8. अब तक का सबसे छोटा बैडमिंटन मैच सिर्फ 6 मिनट का है जो की Kyung-min (South Korea) और Julia Mann (England) के बीच खेला गया था।

9. Peter Rasmussen (Denmark) और Sun Jun (China) के पास सबसे लम्बे समय 124 मिनट तक मैच खेलने का रिकॉर्ड है।

10. जब से यह ओलंपिक खेलों में शामिल हुआ है तब से 103 पदकों में से 93 पदक एशियाई देशों द्वारा जीते गये हैं।

11. इस खेल में सबसे अधिक सफलता प्राप्त करने वाले देशों में चीन और इंडोनेशिया सबसे आगे हैं जो की बैडमिंटन वर्ल्ड फेडरेशन के 70% मैच जीत चुके हैं।

12. विश्व बैडमिंटन संघ (Badminton World Federation) की स्थापना 1934 में हुई थी तब इसमें केवल 9 देश शामिल थे लेकिन अब इसमें विश्व के 150 देश शामिल हो चुके हैं।

13. मलेशिया के तन बून हेओंग ने 206 मील प्रति घंटे (331 किमी प्रति घंटे) की रफ़्तार से शटल को हिट करके गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज कर लिया है।

14. एक पेशेवर खिलाडी बैडमिंटन के मैदान शटल को हिट करने के लिए 2 फीट की ऊंचाई तक छलांग लगा सकता है। 

15. पुराने समय इस खेल को अलग-अलग नामो से जाना जाता था जैसे बैटलडोर, शटलकॉक आदि। बाद में इसका नाम बैडमिंटन रखा गया यह नाम Duke of Beaufort के निवास स्थान बैडमिंटन हाउस के नाम पर रखा गया।