ताजमहल से जुड़े सामान्य ज्ञान प्रश्न और उत्तर

ताजमहल क्या है? इस देश में यह सवाल शायद ही कोई पूछता होगा क्योंकि यहाँ का हर एक इन्सान ताजमहल के बारे में जानता है, हर कोई जानता है की आगरा शहर में स्थित इस खूबसूरत मकबरे को मुग़ल सम्राट शाहजहाँ ने बनवाया था जो आज विश्व के सात अजूबों में से एक है।

Tajmahal GK questions in Hindi


हर किसी को पता है की शाहजहाँ ने इसे अपनी पत्नी मुमताज की याद में बनवाया था लेकिन कई लोगों को यह पता नही होगा की मुमताज महल शाहजहाँ की तीसरी पत्नी थीं। ऐसे ही हम ताजमहल से जुड़े कुछ सवाल और उनके जवाब लेकर आये हैं और जिन्हें पढ़ कर आप ताजमहल के बारे में और अधिक जानकारी हासिल कर पायेंगे।

ताजमहल कहाँ है?
यह भारत के उत्तरप्रदेश राज्य के आगरा शहर में यमुना नदी के किनारे स्थित है।

ताजमहल को कितने मजदूरो ने बनाया?
ताजमहल को बनाने में बीस हजार मजदूरों की जरुरत पड़ी थी।

ताजमहल को बनाने में कितने दिन लगे थे?
ताजमहल को बनाने की शुरुआत 1632 में हुई थी और लगभग 22 साल बाद यह 1948 में पूरी तरह बनकर तैयार हुआ था।

ताजमहल को बनाने में कितने पैसे खर्च हुए थे?
उस जमाने के हिसाब से ताजमहल को बनाने में शाहजहाँ ने लगभग 32 मिलियन रूपये खर्च किये थे।

ताजमहल की नींव किससे बनी है?
आपको यह जानकर हैरानी होगी की ताजमहल का नींव भारीभरकम लकड़ीयों से बनाया गया है और इन लकड़ियों को यमुना के पानी से मजबूती मिलती है। कहा जाता है की नीव बनाने में आबनूस लकड़ी का उपयोग किया गया है जो की एक प्रकार की काली रंग की मजबूत लकड़ी होती जिसका वजन बहुत ज्यादा होता है और इसका उपयोग सजावटी सामान बनाने में किया जाता है।

ताजमहल का आकार कितना है?
ताजमहल की ऊंचाई 73 मीटर यानि 240 फीट है, इसकी लम्बाई 970 फीट और चौड़ाई 365 फीट है। यह चारों तरफ से बगीचे और अन्य कई प्रकार के भवनों से घिरा हुआ है, ये सभी 17 हेक्टेयर भूमि पर बनाये गये हैं।

ताजमहल में कितने कमरे हैं?
120 कमरे।

ताज महल को बनाने मे कौन-कौन से पत्थर का उपयोग किया गया है?
ताजमहल को खूबसूरत बनाने के लिए कई प्रकार के बेशकीमती पत्थरों का उपयोग किया गया है जिन्हें सिर्फ भारत ही नही बल्कि एशिया के अलग-अलग स्थानों से एकत्रित किया गया है। इनमे से कुछ पत्थरों के नाम इस प्रकार हैं:
  • अकीक
  • येमेनी
  • फिरोजा
  • लज्वाद
  • मूंगा
  • सुलेमानी
  • लहसुनिया
  • यशब
  • पितुनिया
कहा जाता है की इन पत्थरों को अलग-अलग स्थानों से लाने के लिए लगभग 1000 हाथियों का उपयोग किया गया था।

ताज महल से कितनी कमाई होती है?
कमाई के मामले में ताजमहल किसी अन्य दार्शनिक स्थलों के मुकाबले काफी आगे है। इसकी सालाना कमाई लगभग 25 करोड़ रुपये है।

ताजमहल का ठेकेदार कौन था?
कहा जाता है की ताज को बनाने के समय उस्ताद ईसा नामक व्यक्ति ठेकेदार थे जो की एक वास्तुकार भी थे।

ताजमहल किसने बनवाया था?
ताजमहल को मुगल शासक शाहजहां ने अपनी तीसरी पत्नी मुमताज महल की याद में उसकी मृत्यु के उपरांत बनवाया था।

ताजमहल को किसने बेच दिया था?
आपको जानकर हैरानी होगी की ताजमहल जिसे भारत की एक प्राचीन विरासत मानी जाती है को किसी ने बेंच दिया था। एक बहुचर्चित व्यक्ति जिसका नाम मिथिलेश कुमार श्रीवास्तव था जिसे लोग नटवर लाल के नाम से जानते थे ने यह कारनामा किया था। 

ताजमहल पर क़ुरान की आयात किसने लिखी थी?
ताजमहल की दीवारों पर सुन्दर तरीके से calligraphy के जरिये लिखे गए कुरान के आयात देश-विदेश से आने वाले सैलानियों को अपनी ओर आकर्षित करतीं हैं कई लोगों के मन में यह सवाल आता है की आखिर इसे किसने लिखा होगा? सन 1609 में इसे अब्दुल हक नाम के व्यक्ति द्वारा संगमरमर के पत्थरों पर लिखा गया था,  कई जगहों पर उनके हस्ताक्षर भी देखे गये हैं। अब्दुल हक को शाहजहाँ ने अमानत अली की उपाधि भी दी थी। 

ताज महल का वास्तुकार (architect) कौन था?
उस्ताद अहमद लाहौरी ताजमहल के प्रधान वास्तुकार (chief architect) थे वहीँ उस्ताद ईशा सह वास्तुकार के तौर काम कर रहे थे।

दूसरा ताज महल की संज्ञा किसे दी गयी है?
महाराष्ट्र के औरंगाबाद में बीबी का मकबरा नामक एक मकबरा है जिसे मुग़ल सम्राट औरंगजेब के बेटे आज़म साह ने अपनी माँ राबिया-उद-दौरानी की याद में सन 1660-61 में बनवाया था इसे ताजमहल की तरह ही बनाया गया है इसलिए इसे दूसरा ताजमहल भी कहा जाता है।

ताजमहल को दुनिया के सात अजूबों (seven wonders of the world) में कब शामिल किया गया?
सन 2007 में।

क्या सैलानियों के लिए ताजमहल पूरे हफ्ते खुला रहता है?
नही हफ्ते में एक दिन शुक्रवार को ताजमहल बंद रहता है बाकी के छः दिन आप सुबह 6.00 बजे से शाम तक यहाँ घूम सकते हैं।

ताजमहल घूमने के लिए कौनसा समय अच्छा होता है?
यदि आप ताजमहल देखने जा रहें हैं तो इसके लिए मौसम के अनुसार सबसे बढिया समय अक्टूबर से मार्च तक को माना जाता है।

जब मुमताज की मृत्यु हुई तब वह कितने वर्ष की थी?
38 साल।

मुमताज की मृत्यु कैसे हुई?
मुमताज महल की मौत बुरहानपुर में 17 जून 1631 में शाहजहाँ के 14वीं संतान को जन्म देने के दौरान हुई थी।

ताजमहल को Unesco World Heritage का दर्जा कब मिला?
सन 1983 में।

क्या ताजमहल में कैमरा ले कर जा सकते हैं?
हाँ सुरक्षा जांच के बाद आप कैमरा ले कर जा सकते हैं लेकिन कैमरे के अन्य सामान जैसे tripod आदि लेकर नही जा सकते।


उम्मीद है ताजमहल से जुड़े सारे सवालों के जवाब आपको मिल गये होंगे यदि कोई सवाल आपके मन में हो तो आप नीचे कमेंट कर के हमें जरुर बताएं।