पेंगुइन के बारे में 32 जानकारियाँ - आपको हैरान कर देंगी - About Penguin in Hindi

Penguin in Hindi

पेंगुइन के बारे में 32 रोचक जानकारियाँ - Information About Penguin in Hindi


1. वैज्ञानिकों का मानना है की पेंगुइन की 17 प्रजातियाँ हैं लेकिन उनमे से 13 प्रजातियाँ विलुप्त होने की कगार पर हैं।

2. अधिकांश पेंगुइन दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड, अंटार्कटिका, अर्जेंटीना, चिली और ऑस्ट्रेलिया में पाए जाते हैं।

3. हर साल 25 अप्रैल को विश्व पेंगुइन दिवस (World Penguin Day) मनाया जाता है।

4. पेंगुइन का सबसे पुराना जीवाश्म आज से लगभग 6 करोड़ 16 लाख साल पहले का है, यह वो समय था जब धरती से सारे डायनासोर खत्म हो चुके थे। कुछ जीवाश्म पेंगुइन आज के किसी भी पेंगुइन की तुलना में बहुत बड़े थे, जो 4.5 फीट लंबे थे।

5. पेंगुइन के दांत नही होते ये अपने शिकार को खाने के लिए अपनी चोंच का उपयोग करते हैं।

6. आपको जानकर हैरानी होगी की ये अपने भोजन के साथ कंकड़ और पत्थर भी खाते हैं। ये पत्थर भोजन को पचाने में मदद करता है। इसके अलावा ये पत्थर पानी की गहराई में गोता लगाने के लिए पेंगुइन के शरीर को आवश्यक भार प्रदान करता है।

7. पेंगुइन मांसाहारी होते हैं और ये अपना सारा खाना समुद्र से प्राप्त करते हैं। ये मछलियाँ, केकड़े, झींगे आदि को अपना भोजन बनाते हैं।

8. एक वयस्क पेंगुइन एक डुबकी लगाकर एक बार में 30 मछलियाँ पकड सकती है।

9. समुद्र के अंदर सबसे ज्यादा गहराई में गोता लगाने का रिकॉर्ड सम्राट पेंगुइन (Emperor Penguin) के नाम दर्ज है जो की 1,850 फीट गहराई तक पहुँच गया था। और इस दौरान वह 22 मिनट तक बिना सांस लिए पानी के अंदर गोता लगाता रहा।

10. पेंगुइन समुद्र का खारा पानी पी सकते हैं क्योंकि उनके पास एक विशेष प्रकार की ग्रंथि होती है, जो रक्तप्रवाह से नमक को छानने का काम करती है।

11. पेंगुइन की देखने की क्षमता जमीन के मुकाबले पानी के अंदर अधिक होती है। ऐसा भी माना जाता है की पेंगुइन धरती पर बहुत ही कम दूरी तक देख पाते हैं।

12. पेंगुइन को अपने पंखों का बहुत ज्यादा ख्याल रखना पड़ता है। सही तरीके से देखभाल नही करने पर इनके पंख वाटर प्रूफ नही रहते। इस काम के लिए ये अपने पंखों पर विशेष प्रकार का तेल लगाते हैं जो की उनके पूँछ के पास से स्त्रावित होता है।

13. पेंगुइन के पंख साल में एक बार नष्ट हो जाते हैं। नये पंख आने में कुछ हफ्ते का समय लगता है तब तक ये अपना समय जमीन पर या बर्फ पर बिताते हैं क्योंकि इस दौरान वे पानी में जाने से असमर्थ होते हैं।

14. बड़े पेंगुइन आमतौर पर ठंडे क्षेत्रों में रहते हैं। जबकि छोटे पेंगुइन आमतौर पर अधिक गर्म और उष्णकटिबंधीय जलवायु में पाए जाते हैं।

15. पेंगुइन की कुछ प्रजातियाँ घोसला भी बनाती हैं इसके लिए वे छोटे-छोटे पत्थरों को पंक्तिबद्ध रख कर एक गोलाकार स्थान बनाते हैं।

16. ब्लू पेंगुइन इस प्रजाति की सबसे छोटी पक्षी है, जिनकी केवल केवल 16 इंच की होती है।

17. पेंगुइन बहुत ही ज्यादा सामाजिक पक्षी हैं। समुद्र में आमतौर पर ये समूह में तैरते हैं और समूहों में भोजन भी करते हैं।

Penguin Group Photo - penguin in hindi


18. ये बड़े-बड़े झुंडो में रहना पसंद करते हैं एक समूह में 200, 1000 या उससे भी अधिक पेंगुइन हो सकते हैं। यही वजह है की इनकी लोकेशन का पता अंतरिक्ष से भी लगाया जा सकता है।

19. पेंगुइन की अब तक की सबसे बड़ी कॉलोनी दक्षिण सैंडविच द्वीपसमूह के Zavodovski Island में देखी गयी थी जहाँ इनकी संख्या 20 लाख के आसपास थी।

20. पेंगुइन एक दुसरे को बुलाने के लिए अलग-अलग आवाजें निकालते हैं, अब आप सोंच सकते हैं की हजारों की झुण्ड में सभी को अलग-अलग आवाज से बुलाना कितना कठिन काम होगा।

21. ये पानी के अंदर 10 से 15 मिनट तक बिना सांस लिए रह सकते हैं। ये पानी के अंदर साँस नही ले सकते।

22. अपना ज्यादातर जीवन पानी में बिताते हैं लेकिन ये अंडे देने के लिए धरती पर ही आते हैं। ये पानी के अंदर अंडे नही देते।

23. पेंगुइन पक्षी के आकार और वजन की तुलना में अन्य पक्षियों के अण्डों से इनके अंडे बहुत ही छोटे होते हैं।

24. अंडे को सेने की जिम्मेदारी नर की होती है, वह अपने नर्म पैरों से अंडे को गर्म रखता है और जब तक अंडे से शिशु पैदा न हो जाए ये उसी अवस्था में महीनो तक बने रहते हैं, यहाँ तक की इस दौरान वे खाने के लिए भी कहीं नही जाते।

25. पेंगुइन के नवजात बच्चे वाटर प्रूफ नही होते हैं इसलिए जब तक इनके शरीर पर वाटर प्रूफ पंख नही आ जाते तब तक ये पानी के बाहर ही रहते हैं और भोजन के लिए अपनी माँ पर निर्भर रहते हैं।

26. ये पानी के अंदर करीब 16 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तैर सकते हैं। जबकि Gentoos नाम की प्रजाति के पेंगुइन इससे दोगुना यानि 32 किमी प्रति घंटे की रफ़्तार से तैर सकते हैं।

27. कई बार इन्हें बर्फ पर अपने पेट के बल फिसलते हुए भी देखा गया है। वैज्ञानिकों का मानना है की ये ऐसा मजे लेने के लिए और कई बार एक जगह से दुसरे जगह जाने के लिए करते हैं।

28. पेंगुइन हम इंसानों से नही डरते हैं बल्कि ये अपने आप को इंसानों के बीच सुरक्षित महसूस करते हैं।

29. इनकी औसत उम्र 15 से 20 साल तक होती है।

30. पुरातत्वविदों द्वारा पाया गया सबसे बड़ा पेंगुइन जीवाश्म 5 फीट तक लंबा है।

31. और अब जीवित प्रजातियों में से सम्राट पेंगुइन (Emperor Penguin) सबसे अधिक लम्बा पेंगुइन है जिसकी ऊंचाई 4 फीट होती है।

32. पेंगुइन दिखने में बहुत ही प्यारे होते हैं लेकिन चिंता का विषय है की अब इनकी संख्या लगातार कम होती जा रही है जिसकी सबसे बड़ी वजह जलवायु परिवर्तन है।

आपको पेंगुइन के बारे में जानकारी पढ़कर कैसा लगा हमें जरूर बताएं। आप इसे सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकते हैं।

रोचक जानकारी पायें सीधे अपने ईमेल पर!